क्या हुआ जब ट्रेन की चाबी हो गई गायब

0
61

बावल। ऐसी घटना शायद ही आपने सुनी हो कि एक मालगाड़ी से जुड़े इंजन का चाबी खो गई हो और सुबह से देर सायं तक गाड़ी स्टेशन पर ही खड़ी रही हो। लेकिन ऐसी एक घटना बुधवार को बावल रेलवे स्टेशन पर देखने का मिली, जब कोयले से लदी एक मालगाड़ी स्टेशन पर पहुंची और स्टाफ बदली होने के चलते इंजन की चाबी का पता नहीं चल सका। जिसके चलते 8 घंटे बीत जाने के बाद भी ट्रेन ट्रैक पर खड़ी रही। स्टेशन के पास ही फाटक होने के कारण फाटक बंद रहा, जिससे दिनभर वाहनों की लंबी कतारें लगी रही। लेकिन जब ट्रेन नहीं टहली तो चालकों ने अन्य रास्तों से वाहनों को निकाला।
हुआ यह कि कोयले से भी एक मालगाड़ी मथुरा से चलकर रेवाड़ी के निकली थी। रास्ते में पडऩे वाले बावल रेलवे स्टेशन पर चालक व गार्ड बदली होने थे। जैसे ही ट्रेन 11 बजे बावल स्टेशन पर पहुंची तो कुछ देर के लिए ट्रेन स्टेशन पर खड़ी रही और ट्रेन का चालक व गार्ड अपने गतव्यं को रवाना हो गए। रेवाड़ी से पहुंचे स्टाफ ने जब स्टेशन मास्टर से इंजन की चाबी मांगी तो मास्टर के पास चाबी न पाकर सभी चिंतित हो गए। पूर्व चालक व गार्ड से संपर्क किया गया जो उनका मोबाइल फोन नहीं लग पाया। चाबी को इधर-उधर काफी तलाश किया, लेकिन चाबी का पता नहीं चल सका। तत्पश्चात स्टेशन मास्टर कंट्रोल रूप में इसकी सूचना दे दी है।
वहीं रसियावास फाटक के बीच में ट्रेन खड़ी होने के कारण वाहनों की लंबी कतारे लग गई। चालकों ने ट्रेन टहलने का काफी इंतजार किया और उनका सब्र का बांध उस समय टूट गया, जब उन्हें पता चला कि चाबी न होने कारण ट्रेन को यहां से चलाना मुश्किल है। उसके बाद चालक अन्य मार्गों से निकले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here